#Indian Independence Day – 75 years of Independence – National Celebration & Festivity# Jai Hind! Jai Hind! Jai Hind! – Spl Article by Vasan Suri

 

Thaiyin Manikodi, Thaiyin Manikodi, Solluga Jai Hind!
Thai Nalam Kathida, Thannalam Pokkida, Solluga Jai Hind!

Celebrating our real heroes – The defence and armed forces of our Country.

Their body gets stiff and in to the attention mode and their chest looks up with pride, the moment they hear Jai Hind!

They live at the borders duty bound, withstanding the extreme hot or cold climate, only to save this Sovereign Nation and the population spread all over the Country.

Today, we all are in festive mood celebrating with our family and friends but, these jawans and their team are always on vigil, holding and wearing the National flag all the time.

Though, they are supposed to be guarding the borders all the time, any National calamity like Floods or Earthquake, they move in swiftly and make all temporary roads to bring back our life to Normalcy.

They are always away from the family to keep us all comfortable and some of them attain martyrdom for the sake of our Mother Land.

Their sacrifices cannot be measured and how much ever we thank them, still we will fall short.

They are the real heroes of our Country. As a responsible citizen, we all must respect their sacrifices and their families towards this sacred Nation.

Any good news that is happening within the Nation will make them happy. And any bad news of riots or vandalism in the name of religion, region, community or caste will pain them.

They guard us for our safety and we are all having petty fights will hurt them badly.

Together we all will win. The aim and target should be only INDIA First.

Salute our Armed Forces and Border Security Forces. Jai Jawan!

Jai Hind!

Bharat Mata ki Jai!

Vande Mataram!]

#भारतीय स्वतंत्रता दिवस – स्वतंत्रता के 75 वर्ष – राष्ट्रीय उत्सव और उत्सव#

जय हिन्द! जय हिन्द! जय हिन्द!
थायिन मानिकोडी, थायिन मानिकोडी, सोलुगा जय हिंद!
थाई नलम काथिदा, थन्नलम पोक्किडा, सोलुगा जय हिंद!

हमारे असली नायकों का जश्न – हमारे देश की रक्षा और सशस्त्र बल।

जय हिंद सुनते ही उनका शरीर अकड़ जाता है और ध्यान की मुद्रा में आ जाता है और उनका सीना गर्व से ऊंचा हो जाता है!

वे इस संप्रभु राष्ट्र और पूरे देश में फैली आबादी को बचाने के लिए, अत्यधिक गर्म या ठंडी जलवायु को झेलते हुए, कर्तव्यबद्ध सीमा पर रहते हैं।

आज, हम सभी अपने परिवार और दोस्तों के साथ उत्सव के मूड में हैं, लेकिन, ये जवान और उनकी टीम हमेशा चौकसी पर रहती है, हर समय राष्ट्रीय ध्वज पकड़े और पहने रहती है।

हालाँकि, उन्हें हर समय सीमाओं की रखवाली करनी चाहिए, बाढ़ या भूकंप जैसी कोई भी राष्ट्रीय आपदा, वे तेजी से आगे बढ़ते हैं और हमारे जीवन को सामान्य स्थिति में लाने के लिए सभी अस्थायी सड़कें बनाते हैं।

वे हम सभी को सहज रखने के लिए हमेशा परिवार से दूर रहते हैं और उनमें से कुछ हमारी मातृभूमि की खातिर शहादत प्राप्त करते हैं।

उनके बलिदानों को मापा नहीं जा सकता और हम उन्हें कितना भी धन्यवाद दें, फिर भी हम कम पड़ेंगे।

वे हमारे देश के असली हीरो हैं। एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में, हम सभी को इस पवित्र राष्ट्र के प्रति उनके बलिदान और उनके परिवारों का सम्मान करना चाहिए।

देश में कोई भी शुभ समाचार जो हो रहा है, वह उन्हें प्रसन्न करेगा। और धर्म, क्षेत्र, समुदाय या जाति के नाम पर दंगे या तोड़फोड़ की कोई भी बुरी खबर उन्हें पीड़ा देगी।

वे हमारी सुरक्षा के लिए हमारी रक्षा करते हैं और हम सभी के बीच छोटे-मोटे झगड़े होने से उन्हें बहुत नुकसान होगा।

हम सब मिलकर जीतेंगे। लक्ष्य और लक्ष्य केवल इंडिया फर्स्ट होना चाहिए।

हमारे सशस्त्र बलों और सीमा सुरक्षा बलों को सलाम। जय जवान!

जय हिन्द! भारत माता की जय! वन्दे मातरम!

#Indian Independence Day#Indian Independence Day - 75 years of Independence - National Celebration & Festivity# Jai Hind! Jai Hind! Jai Hind! - Spl Article by Vasan Suri75 years of IndependenceJai Hind! Jai Hind! Jai Hind!National Celebration & Festivity#Spl. Article by Vasan. Suri
Comments (0)
Add Comment